बाजार में नकदी बढाने के लिए RBI खरीदेगा बॉन्ड

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया  नकदी बढ़ाने के लिए सरकारी बॉन्ड की खरीदारी करेगा। शीर्ष बैंक ने बाजार में करीब 12 हजार करोड़ रुपये की नकदी डालने का फैसला किया है। आरबीआई ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि नकदी की कमी के किए गए आकलन और धन की टिकाऊ मांग को देखते हुए रिजर्व बैंक ने 25 अक्टूबर को खुले बाजार प्रक्रिया (आएमआ) के तहत 120 अरब रुपये के सरकारी प्रतिभूतियों को खरीदने का । निर्णय लिया है। रिजर्व बैंक ओएमओ के तहत खरीदी जाने । वाली प्रतिभूतियों को 2020 में । परिपक्वता की स्थिति में 8.12 फीसद की ब्याज दर पर,पर 8.20 फीसद, 2024 में परिपक्वता की स्थिति पर 8.40 फीसद, 2026 में परिपक्वता । की स्थिति पर 6.97 फीसद और 2031 में परिपक्वता की । स्थिति पर 6.68 फीसद ब्याज दर पर खरीदेगा। यह रिजर्व बैंक की बाजार में कल 36 हजार करोड़ रुपये की नकदी डालने की योजना का हिस्सा है। ओएमओ के जरिये नकदी डालने की योजना की आखिरी खेप है। इससे पहले अक्टूबर के दूसरे एवं तीसरे सप्ताह में बैंक दो बार बॉन्ड खरीद चुका है। बाजार में नकदी संकट सितंबर से बना हुआ है। तब रिजर्व बैंक और सेबी ने कहा था कि इस पर उसकी नजर बनी हुई है।