बड़ा बदलाव ला सकता है पुलिस सुधार आयोग

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जल्दी ही सवा लाख सिपाहियों की भर्ती की जाएगी जिससे पुलिस वालों को साप्ताहिक अवकाश न मिलने की समस्या दूर हो जाएगी। शामली के शहीद अंकित कुमार तोमर के गांव के संपर्क मार्ग का नाम अब उनके नाम पर होगा। पिछले सप्ताह पुलिस स्मृति दिवस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस का मनोबल बढ़ाने वाली यह अकेली घोषणा नहीं की। उन्होंने यह भी कहा कि जल्दी ही सवा लाख सिपाहियों की भर्ती की जाएगी जिससे पलिस वालों को साप्ताहिक अवकाश न मिलने की समस्या दूर हो जाएगी। लखनऊ के विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद पलिस में जैसी प्रतिक्रिया देखने को मिली थी, उसके आलोक में यह घोषणा अपेक्षित थी और यह मरहम भी साबित हुई। यूं तो योगी ने और भी आज भी प्रासंगिक घोषणाएं कीं पर सबसे अहम है, पुलिस आधुनिकीकरण के लिए तीन सदस्यीय आयोग बनाने का निर्णय। यूपी पुलिस को आदिम बताने वाली तो कई कहानियां हैं लेकिन, वह जिन विषम स्थितियों और दबावों में काम करती है, वे सामने नहीं आ पाते। दारोगा और सिपाही वर्षों बिना छुट्टी ड्यूटी करते रहते हैं। इससे वे हमेशा तनाव में रहते हैं और इसीलिए कई बार आत्महत्या तक कर बैठते हैं। खराब कानून व्यवस्था के कारण ही यूपी आने में उद्यमियों के हौसले पस्त हो जाते हैं। इसलिए यदि योगी सरकार वास्तव में पुलिस का आधुनिकीकरण कर सकी तो यह उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर करने की दिशा में बड़ा और स्थायी कदम होगा। कुछ महीनों पहले जब राज्य सरकार ने लखनऊ में बड़ी इन्वेस्टर्स मीट की तो उसी समय कुछ स्वर उठे कि इससे भला प्रासंगिक हैं श्री बाबू किसानों का क्या हित सधेगा। इस हफ्ते लखनऊ में तीन दिन का कृषि । कुंभ आयोजित करके सरकार ने । आलोचकों को जवाब दे दिया। कुंभ में लगी प्रदर्शनी में जिस तरह प्रदेश भर के किसानों की बड़ी भागीदारी रही, उससे आयोजन की उपयोगिता साबित हो रही थी। दसरे दिन कषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने घोषणा की कि तीन कृषि यंत्र एक साथ खरीदने वाले किसान को सरकार 80 और एक यंत्र खरीदने पर 50 प्रतिशत अनुदान देगी। कुंभ में हुई गोष्ठी में अनुदान दगा। कुम म हुई गाष्ठा म कृषि उत्पादन आयुक्त का एक सुझाव यदि लागू हुआ तो बड़ा बदलाव ला सकता है। उनका कहना था कि किसानों से हर माह उनका अनाज खरीदना चाहिए। इससे गोदामों का खर्च बचेगा और तब इस पैसे का उपयोग किसानों को  उनकी उपज का अधिक मूल्य देने में होगा।