मुख्यमंत्री नीतीश ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया रबी अभियान-सह-बीज वाहन विकास रथ

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को सीएम सचिवालय के पास सूबे के सभी जिलों के लिए रबी अभियान-सह-बीज वाहन विकास वाहन रथों हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. इस मौके पर कृषि मंत्री डा. प्रेम कुमार कृषि विभाग के प्रधान सचिव सुधीर कुमार और कृषि निदेशक आदेश तितरमारे भी मौजूद थे. रथ सभी गांवों में जायेगा और रबी मौसम में विभाग द्वारा संचालित विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी लोगों तक पहुंचायेगा. प्रखंडों में 24 से 31 अक्टूबर तक प्रखंड स्तर पर प्रखंड स्तरीय प्रशिक्षण-सह-उपादान वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. रबी अभियान में राज्य के सभी प्रखंड मुख्यालयों में किसानों को विभिन्न फसलों की खेती-बारी का तकनीकी प्रशिक्षण और विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी जायेगी. शिविर में योजनाओं के लिए संविधान चयनित किसानों को खाद, बीज, कीटनाशी आदि उपलब्ध कराया जाएगा. बिहार राज्य बीज निगम द्वारा गेहूं का 1 लाख 4 हजार 873 किंटल, मसूर 1 हजार 608 क्विटल, चना 267 क्विटल, राई/सरसों 367 किंटल, मटर 90 किंटल बीज प्रसंस्कृत कर किसानों को अनुदानित दर पर उपलब्ध कराया जायेगा. 2018-19 में 43.75 लाख हेक्टेयर में खाद्यान्न फसलों की खेती से 145.55 लाख टन उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. 23 लाख हेक्टेयर में गेहूं की खेती से 71 लाख टन उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है. इस मौके पर कृषि मंत्री डा. कुमार ने कहा कि पटना से भागलपुर तक के गंगा के दक्षिणी भाग में पड़ने वाले गांव और दनियावां से ; बिहारशरीफ तक के राजकीय/राष्ट्रीय मार्ग के किनारे कुल 9 जिलों पटना, नालंदा, वैशाली, समस्तीपुर, बेगूसराय, लखीसराय, मुंगेर, भागलपुर और खगड़िया में बसे गांव में कुल 25 हजार एकड़ जैविक कॉरिडोर विकसित किया जा रहा है. । पंचायत स्तर पर ‘‘किसान चौपाल' ; का आयोजन किया जायेगा।