बिहार कैबिनेट की बैठक में 17 एजेंडों पर मुहर

पटना। राज्य सरकार ने सरकारी कार्यालयों में अगले वर्ष होने वाली छुट्टियों का कैलेंडर स्वीकृत कर दिया है। रविवार के कारण अगले साल छुट्टियों में सात दिनों की कटौती हो गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में कुल 17 प्रस्तावों पर स्वीकृति दी गई। वर्ष 2019 में 27 दिन सार्वजनिक अवकाश रहेंगे। इनमें 17 दिन एनआइ एक्ट के तहत और 10 दिन राजपत्रित अवकाश के शामिल हैं। गुरू नानक जयंती पर भी सार्वजनिक अवकाश रहेगा। मिली जानकारी के अनुसार नए वर्ष की सरकारी छुट्टियों में वर्ष 2018 का अपक्षा सात दिन का कटाता ही गई है। यह कटौती रविवार पड़ने की वजह से हुई है। रविवार को जो छुट्टियां पड़ रही हैं, उनमें गुरू गोविंद सिंह जयंती, वसंत पंचमी, अंबेडकर जयंती, शब-ए-बारात और छठ पूजा शामिल हैं। 2108 में कल 34 सार्वजनिक अवकाश थे। मंत्रिमंडल ने सरकारी छट्टियों के कैलेंडर के साथ ही सीएजी सामान्य और आर्थिक रिपोर्ट को भी अनुमोदित कर दिया है। अब इसे विधान मंडल के दोनों सदनों में भेजा जाएगा। मंत्रिमंडल ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती 25 दिसंबर को राजकीय समारोह के रूप में मनाने का प्रस्ताव भी स्वीकत किया है। सूत्रों ने बताया कि शिक्षा विभाग के एक प्रस्ताव पर विमर्श के बाद मंत्रिमंडल ने विश्वविद्यालय शिक्षकों और शिक्षकेतर कर्मियों को भी सातवां वेतनमान देने पर अंतिम विचार करने के लिए कमेटी गठित करने की मंजूरी दी है। कमेटी किसकी अध्यक्षता में बनेगी इसका फैसला बाद में लिया जाएगा।