ईज ऑफ डूइंग रैंकिंग में टॉप 50 में आ सकता है भारत- जेटली

नई दिल्ली। ईज ऑफ डूइंग बिजनस रैकिंग में भारत 23 पायदान की छलांग के साथ 77वें स्थान पर पहुंच गया है। इससे उत्साहित वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि भारत इस रैंकिंग में और सुधार करके शीर्ष 50 देशों में शामिल हो सकता है। विश्व बैंक की ओर से जारी सूची के मुताबिक, भारत ने लगातार दूसरे साल लंबी छलांग लगाई है। भारत पिछले साल 100वें स्थान पर रहा था। बतौर जेटली, भारत को शीर्ष 50 देशों में शामिल होने के लिए अनुबंधों को अमल में लाने के साथ कारोबार शुरू करने और रियल एस्टेट परियोजनाओं के पंजीकरण में लगने वाले समय में सुधार करना होगा, फिर देश रैंकिंग में शीर्ष 50 देशों में शामिल हो सकता है। बता दें कि विश्व बैंक ने पिछले साल जो रैंकिंग निकाली थी उसके मुताबिक, भारत 30 पायदान की छलांग के साथ 100वें स्थान पर पहुंच गया था। 2014 में मोदी सरकार के सत्ता में आने के समय भारत की रैंकिंग 142 थी। विश्व बैंक की ओर से रैंकिंग जारी होने के बाद मीडिया से बात करते हुए जेटली ने कहा कि रैंकिंग को और बेहतर बनाने के लिए कारोबार शुरू करना, समयबद्ध तरीके से रियल एस्टेट का पंजीकरण, दिवालिया एवं कर कानून और अनुबंधों को लागू करना होगा।