मुझे पता था जदयू -भाजपा की होगी बराबर की शेयरिंग-नीतीश

  पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में एनडीए की जबर्दस्त जीत होगी। हम नहीं चाहेंगे कि 40 में से एक भी सीट हारें। एक अंग्रेजी मैगजीन के स्टेट आफ स्टेट कान्क्ले व में शनिवार को उन्होंने कहा कि मुझे पहले से ही मालूम था कि भाजपा और जदयू समान सीटों पर चुनाव लड़ेंगे, लेकिन यह बात मैंने अपनी पार्टी के नेताओं से भी नहीं कही थी। इसपर लोग तरह-तरह के अटकल लगा रहे थे। कोई कह रहा था कि जदयू को सिर्फ 8 सीटें मिलेंगी तो कोई 10 कह रहा था। उन्होंने विपक्ष की ओर इशारा करते हए कहा कि हम काम में विश्वास करते हैं। जबान चलाने में मेरी कोई दिलचस्पी नहीं है। मख्य अतिथि के रूप में कान्क्लेव में शामिल नीतीश कुमार ने सीटों की संख्या और इसे लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से हुई बातचीत की जानकारी देने से परहेज किया। उन्होंने कहा कि यह दो राजनीतिक व्यक्तियों के बीच की बात है, इसे यहां शेयर करना ठीक नहीं है। लेकिन यह बात तय है कि भाजपा और जदयू के बीच न तो कोई राजनीतिक और न ही प्रशासनिक मतभेद है। उपेंद्र कुशवाहा के इस बयान पर कि नीतीश कुमार 2020 में मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते, उन्होंने कोई टिप्पणी करने से मना कर दिया। यह पूछे जाने पर कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सृजन घोटाला के दोषियों को बचाने का आरोप लगा रहे हैं, उन्होंने कहा कि इस मामले को हमने ही उजागर किया और फिर इसकी सीबीआई जांच के आदेश दिए। जब महागठबंधन में था, तब मीडिया के  लोग ही पूछते थे कि भ्रष्टाचार से क्यों समझौता किए हुए हैं। मैंने तब भ्रष्टाचार के विरोध में महागठबंधन से नाता तोड़ा तो मुझे पलटू कहा जाने लगा। इससे पूर्व अपने संबोधन में उन्होंने राज्य में हुए विकास कार्यों को गिनाया।  उन्हान बताया कि शिक्षा, स्वास्थ्य, महिला सशक्तीकरण से लेकर सड़कों के सशक्तीकरण से लेकर सड़की के निर्माण एवं विधि व्यवस्था से जुडे लक्ष्यों को किस प्रकार पूरा किया गया। आगे भी यह काम जारी रहेगा। हर घर तक बिजली का पहुंच जाना सरकार की ताजा उपलब्धि है। विकास कार्यों के साथ-साथ हमने सामाजिक बदलाव के काम किए हैं। इनमें शराबबंदी प्रमुख है। अभी दहेज और बाल विवाह के खिलाफ अभियान चल रहा है। उन्होंने तेजस्वी यादव का नाम लिए बिना कहा कि कुछ लोग सोशल मीडिया पर लगे रहते हैं, लेकिन हम काम में विश्वास करते हैं। जुबान चलाने में मेरी कोई दिलचस्पी नहीं है। मैं क्राइम, कम्युनलिज्म और करप्शन  से कोई समझौता नहीं कर सकता।कुछ लोग सत्ता का दुरूपयोग करते हैं, मगर हम सत्ता को इस्तेमाल काम के  लिए करते हैं।