उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या में करेगी भव्य दीपोत्सव और सांस्कृतिक समारोह का आयोजन

अयोध्या । उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार अयोध्या में मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम की एक बार फिर वन से वापसी का अहसास दिलाने के लिए दीपावली के मौके पर भव्य दीपोत्सव और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजित करेगी। अध्यादेश दीपावली के अवसर पर अयोध्या में भगवान राम और हनुमान की भव्य मूर्तियों को हाईलाइट किया जाएगा। दीपोत्सव रविवार से शुरू होगा और 6 नवंबर को समाप्त होगा। इस कार्यक्रम में सरयू नदी के तट पर 3 लाख मिट्टी के दीए जलाकर के बिना दिसंबर विश्व रिकॉर्ड बनाने की तैयारी की जा रही है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा उनके मंत्रिमंडल सदस्य और केंद्र से भी कई मंत्री शामिल होंगे। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को बताया कि पवित्र सरयू नदी के घाटों को सजाया गया है। 4 से 6 नवंबर से तीन दिनों तक के आयोजन के लिए सभी तैयारियां शुरु कर दी गई हैं। करीब 3 लाख दीपक जलाकर दीपावली के उत्सव को मनमोहक बनाने के लिए देश के कोने-कोने से आए रामलीला कमेटियों का भी मंचन होगा। इससे पहले 2017 में उत्तर प्रदेश के मख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरय नदी के किनारे भगवान राम की भव्य 151 मीटर ऊंची मर्ति स्थापित करने की घोषणा की थी। प्रदेश के पर्यटन विभाग ने इस आशय का एक प्रस्ताव राज्यपाल राम नाईक को भेजा था।