अल्पकालिक लक्ष्यों से संचालित नहीं है भारत-म्यांमार की दोस्ती : राष्ट्रपति कोविंद

म्यांमार। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि भारत और म्यांमार की दोस्ती अल्पकालिक लक्ष्यों से संचालित नहीं है बल्कि इसमें परस्पर शांति, प्रगति एवं समृद्धि की सतत तलाश रहती है. उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश की क्षेत्रीय अखंडता तथा एकता को कायम रखने का नई दिल्ली समर्थन करती है. अपने म्यांमार के समकक्ष यू विन म्यिंत की मेजबानी में आयोजित राजकीय भोज में कोविंद ने कहा कि म्यांमार के साथ भारत की साझेदारी मित्रता, पड़ोसीपन और । साझा हितों के अहम तिराहे पर है. उन्होंने राष्ट्रपति विन म्यिंत, प्रथम महिला दाव ची च और विदेश मंत्री आंग सान सू ची की। विनम्रता और उनके आतिथ्य को भी सराहा, विदेश मंत्रालय ने एक बयान में यह जानकारी दी. विन । म्यिंत के म्यामां का राष्ट्रपति पद संभालने के बाद कोविंद यहां के पहले राजकीय अतिथि बने हैं. उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ाने के लिए अथक प्रयास कर रहे हैं, इसके लिए कनेक्टिविटी बढ़ाई जा रही है, क्षमता निर्माण किया जा रहा है और वाणिज्य तथा सांस्कतिक सरोकार भी बढ़ाया जा रहा है. राष्ट्रपति ने कहा कि दोनों देश साझा जल, वन और पहाड़, संस्कृति, खानपान, भाषा और इतिहास के जरिए जुड़े हुए हैं.